मशरूम फार्मिंग बिजनेस कैसे शुरू करें?| Mashroom Ki Kheti In Hindi

Free Join Our Telegram

आज मार्केट में मशरूम की बहुत ही ज्यादा डिमांड है क्योंकि मशरूम खाने में बहुत टेस्टी होता है. साथ ही सेहत के लिए फायदेमंद भी है. 

अगर मशरूम के प्रकार की बात करें तो यह कई तरह का होता है लेकिन सभी तरह के मशरूम खाने के लायक नहीं होते हैं.

इनमें से बटन मशरूम का खेती करना सही होता है क्योंकि यह खाने के लिए फायदेमंद होते हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बटन मशरूम की खेती हमारे इंडिया के कई राज्यों में की जाती है.

तो आइए अब आपको बताते हैं कि बटन मशरूम की खेती कैसे की जाए.

आज के इस आर्टिकल में आपको जानेंगे-

  • बटन मशरूम के फार्मिंग कैसे शुरू करें 
  • इसकी फार्मिंग करने के लिए मौसम कैसा होना चाहिए 
  • और बटन मशरूम के फार्मिंग करने के क्या तरीके हैं.

चलिए शुरू करते है और सबसे पहले बटन मशरूम फार्मिंग के बारे में जान लेते हैं

सफेद बटन मशरूम फार्मिंग ओवरव्यू 

अगर बटन मशरूम की बात करें तो इसका आकार टोपी के जैसे और माशल की तरह होता है. 

इस मशरूम की खेती हमारे इंडिया में ज्यादातर की जाती है. 

ये एक ऐसा मशरूम है जिसकी खेती टोटल मशरूम खेती के 80 फिसदी किया जाता है. 

बटन मशरूम की खेती करने के लिए जरूरी मौसम. 

किसी भी तरह के मशरूम की फार्मिंग करने के लिए ठंडे मौसम का होना जरूरी होता है लेकिन अगर बटन मशरूम के फार्मिंग की बात करें तो इसे रबी फसलों के टाइम पर उगाया जाता है और यह समय अक्टूबर से लेकर फरवरी तक होता है. 

बटन मशरूम की खेती करने के लिए 22 से 25 सेंटीग्रेड तापमान और 80 से 50 फ़ीसदी नमी का होना जरूरी होता है. 

बटन मशरूम की खेती करने के लिए तैयारियां 

बटन मशरूम की खेती करने के लिए सबसे पहले कंपोस्ट खाद का होना जरूरी है. इसके लिए आप धान यागेहूं के भूसे का इस्तेमाल कर सकते हैं. 

इस बात का ध्यान रखें कि खाद बनाने के लिए आपको नए भूसे का ही इस्तेमाल करना है.

आप चाहे तो गेहूं या धान के भूसे की जगह पर सरसों के भूसे का भी इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन आप जब सरसों की भूसी का इस्तेमाल करें तो उसमें मुर्गे की खाद को डालना बिल्कुल ना भूलें. 

अच्छी क्वालिटी का खाद बनाने के लिए इसमें अमोनियम नाइट्रेट का इस्तेमाल भी करें. इस खाद में अगर नाइट्रोजन के मात्रा की बात करें तो यह करीबन 1.50 से 2.50 फ़ीसदी के बीच होना चाहिए.

कंपोस्ट कैसे बनाएं 

कंपोस्ट बनाते समय आपको सबसे पहले भूसे को किसी साफ-सुथरी जगह पर एक परत बनाकर फैला देना है यह परत 1 फुट के आसपास मोटी होनी चाहिए. अब इसे 2 दिन तक का पानी के साथ गिला करके रखें. 

मशरूम के बीज को इस खाद में डालने पर है तभी अंकुरित होंगे जब इसमें अच्छी तरह से नमी आ जाएगी.

अगर आप 4 से 5 Kg.मशरूम का बीज डालते हैं तो इसके लिए आपको इन चीजों की जरूरत पड़ेगी-

  • धान का भूसा – 300 Kg.
  • कैलशियम अमोनियम नाइट्रेट – 9 Kg.
  • यूरिया – 4.5 Kg.
  • म्यूरेट आफ पोटाश – 3 Kg.
  • सुपर फास्फेट – 3 Kg.
  • गेहूं का चोकर – 15 Kg.
  • जिप्सम  – 20 Kg.

बटन मशरूम के बीज की बुवाई कैसे करें 

बटन मशरूम की खेती करने के लिए अच्छी क्वालिटी के बीज का होना बेहद जरूरी है. इसलिए आप बटन मशरूम का बीज किसी भरोसेमंद दुकान से ही खरीदें. 

इस बात का ध्यान रखें कि यह बीज बहुत पुराना नहीं होना चाहिए. 

बुवाई करने के लिए अगर बीज के मात्रा की बात करें तो यह है कंपोस्ट खाद के भार 2 से 2.50 फ़ीसदी होना चाहिए. 

उदाहरण के लिए – अगर आप 100 Kg.कंपोस्ट ले रहे हैं तो इसके लिए आपको 2 Kg.बटन मशरूम का बीज उपयुक्त होगा. 

बटन मशरूम के बीज की बुवाई करने के लिए आप पूरे खाद में इसे फैला दें और 2 से 3 सेंटीमीटर मोटी परत के खाद से ढक दें. 

कैसे करें बटन मशरूम के फसल की देख-रेख 

मशरूम की फसलों को तैयार होने के लिए खास देखरेख की जरूरत होती है. इसलिए मशरूम के फसलों की खेती है हमेशा घर के किसी रूम में ही करनी चाहिए. 

यह रूम कुछ ऐसा होना चाहिए जहां प्रकाश और हवा के आने जाने की पर्याप्त सुविधा हो. 

अगर किसी वजह से कमरे में प्रकाश नहीं आ पा रहा है तो खुद से बल्ब लगाना चाहिए.

इसके साथ ही समय-समय पर खाद के नमी की जांच भी करती रहनी चाहिए. 

अगर इस खाद का नमी कम हो जाता है तो आपके बटन मशरूम बीज कभी भी अंकुरित नहीं होंगी या विकृत होने के बाद मर जाएंगे. 

कमरे में पर्याप्त हवा आने जाने के लिए सुबह और शाम के वक्त आपको खिड़कियां दरवाजे खोल देने चाहिए. 

कैसे मशरूम के फसलों की कटाई

जब बटन मशरूम का फसल कटाई के लिए तैयार हो जाए तो तो आपको सावधानी से इनकी हार्वेस्टिंग करनी है. 

आपको बता दें की कटाई करने के लिए किसी भी तरह के उपकरण का इस्तेमाल ना करें , नहीं तो इनमें इन्फेक्शन होने की संभावना बढ़ जाएगी. 

फसलों की कटाई कर लेने के बाद जब तक इन्हें मार्केट में बेचने के लिए ना ले जा रहे हों  तब तक अपने मशरुम को किसी ठंडे जगह में स्टोर करके रखें. 

अगर मार्केट आपके घर से काफी दूर हैं तो आप इन मशरूम को 5 से 8 सेंटीग्रेड तापमान पर स्टोर करके रख सकते हैं. 

अगर आप अपनी मशरूम को लंबे समय तक सुरक्षित रखना चाहते हैं तो इसके लिए आप 15 फ़ीसदी नमक के घोल के साथ इन्हें रख सकते हैं. 

बटन मशरूम फार्मिंग बिजनेस में कितनी कमाई होगी और कितना लागत आएगा

जैसा कि आप जानते है किसी बिजनेस को करने पीछे हमारा एक ही मकसद होता है – मुनाफा कमाना.  

इसलिए हर किसी के मन में यह सवाल आना लाजमी है कि इस मशरूम फार्मिंग बिजनेस में कितनी कमाई होगी और कितना लागत आएगा. 

आइए आपको इस सवाल का जवाब बताते हैं.

अगर प्रति किलो बटन मशरूम फार्मिंग में खर्चे की बात करें तो यह 25 से ₹30 तक लागत आता है और इस लागत में 40 से ₹50 की कमाई हो जाती है. 

आपको बता दें कि पिछले कुछ सालों से मशरूम फार्मिंग बिजनेस में काफी इजाफा हुआ है इसलिए आप कह सकते हैं कि यह बिजनेस कमाई का एक अच्छा जरिया बन सकता है. 

तो अब आप समझ चुके हैं कि मशरूम फार्मिंग बिजनेस बहुत ही मुनाफे वाला बिजनेस है. 

और इस पोस्ट में दी गई जानकारी आपको पसंद आए हैं तो इसे अपने दोस्तों के साथ हैं जरूर शेयर करें जो मशरूम फार्मिंग के बिजनेस करना चाहते हैं लेकिन उनके पास से इससे जुड़ी कोई भी जानकारी नहीं है. 

5/5 - (1 vote)

Leave a Comment

x