Papad banane ka business kaise kare? [2022]: इन 10 स्टेप मे शुरू करें यह बिज़नस

Free Join Our Telegram

पापड़ एक ऐसा चीज है जिसे बच्चे ,बड़े और बुजुर्ग सभी लोग खाना पसंद करते हैं। शादी पार्टी या किसी बड़े फंक्शन में होने वाले  बफर सिस्टम में पापड़ तो होता ही है चाहे और कुछ हो या न हो। 

खास कर किसी दावत में  भोजन के साथ पापड़ तो जरूर परोसा जाता है क्योकि सभी जानते है कि पापड़ खाने में स्वादिष्ट होने के साथ ही खाये हुये भोजन को पचाने में हमारे पाचन तंत्र की काफी मदद करता है और इसलिए सेहत की द्रष्टि से भी पापड़ बहुत फायदेमंद साबित होता है। 

कुल मिलाकर देखा जाय तो आय दिन पापड़ की खपत होती रहती है  अतः हमेशा इसकी मांग भी बरकरार रहेगी । 

ऐसे में पापड़ बनाने का व्यवसाय करने का बिजनेस आइडिया काफी बेहतरीन साबित हो सकता है। यह एक ऐसा बिजनेस है जिसे आप कम पूंजी लगाकर भी शुरू कर सकते हैं जिससे आप थोड़ी मेंहनत करने के बाद अच्छा मुनाफा कमाना शुरू कर सकते है।

लेकिन अब प्रश्न उठता है कि पापड़ बनाने के व्यवसाय को कैसे शुरू करें?

आप इस बिजनेस को बड़ी ही आसानी से शुरू कर सकते हैं बस इसके लिए आपको कुछ बेसिक बातों का जानकारी होना चाहिए जैसे कि- 

पापड़ बनाने के व्यवसाय में लगने वाली लागत ,इस बिजनेस को करने के लिए सही जगह और बेचने के लिए सही मार्केट, पापड़ बनाने के बिजनेस का लाइसेन्स तथा 

पापड़ बनाने के मशीन का दाम ? आदि के बारे में जानकारी होनी चाहिए तभी आप पापड़ बनाने के बिजनेस को सफलतापूर्वक शुरू कर सकते हैं। 

 तो इस लेख में आपको इस बिजनेस को करने के लिए सभी जरूरी जानकारी को स्टेप बाइ स्टेप देने वाला हूँ।   

Contents

#1 पापड़ का व्यवसाय शुरू करने के लिए मार्केट खोजें 

किसी भी व्यापार को शुरू करने से पहले संबन्धित उत्पाद के बारे में मार्केट मेंं छानबीन करना एक सफल व्यवसायी की पहचान होती है जिससे यह पता चल सके कि संबन्धित उत्पाद को लेकर मार्केट में

 कहाँ कितना प्रतियोगिता है और इस बिजनेस को स्टार्ट करने के बाद कौन-कौन मेरे प्रतियोगी होंगें? और किस कौन से मार्केट मे मेरे बनाए गए उत्पाद चलेगें?

शुरुआत मे कोई भी सीधे आपका उत्पाद खरीदने नहीं आएगा इसलिए पापड़ का व्यवसाय शुरू करने के लिए आपको अपना मार्केट देख लेना चाहिए कि उत्पाद तैयार होने के बाद आप किसे-किसे अपना पापड़ बेचेगे?  

कहीं ऐसा न हो कि उत्पाद बनने के बाद पड़ा रह जाए और आप बाद में अपने उत्पाद को बेचने के लिए मार्केट मे अपने थोक या फुटकर ग्राहक ढूंढें  इसलिए पापड़ का व्यवसाय शुरू करने के लिए मार्केट जरूर ढूंढ लें। 

#2 पापड़ का व्यवसाय शुरू करने के लिए कच्चा माल 

चाहे बिजनेस लाखों का हो या करोड़ों का हर बिजनेस में कुछ न कुछ कच्चा माल लगता है।  बिजनेस के उत्पाद के अनुसार हर बिजनेस का अपना कच्चा माल होता है। पापड़ का व्यवसाय शुरू करने के लिए भी कुछ  कच्चा माल की जरूरत होती है।

 वैसे तो भारत मे कई किस्म के पापड़ बनाए जाते है और इन क़िस्मों के अनुसार इनके लिए अलग-अलग कच्चा माल होते हैं।  इस व्यवसाय में इस्तेमाल होने वाले प्रमुख कच्चा माल इस प्रकार हैं-

  •  विभिन्न किस्म के दालों का आटा 
  •  नमक 
  • राइस पाउडर 
  • सोडा 
  • काली मिर्च 
  • मिर्च 
  • मसाले 
  • हींग 
  • खाने वाला तेल 
  • कास्टिक सोडा 
  • पैकिंग सामग्री

#3 पापड़ का व्यवसाय शुरू करने के लिए कच्चा माल और पापड़ बनाने की मशीन कहां मिलेगी (पापड़ बनाने की मशीन  कहाँ से खरीदे) 

पापड़ का व्यवसाय को शुरु करने के लिए आप कच्चा माल और मशीन को आप ओफलाइन या ऑनलाइन अपनी सुविधा अनुसार कहीं से भी खरीद सकते हैं। यदि आप ऑनलाइन खरीदना चाहते हैं तो इस लिंक के जरिये पापड़ बनाने का व्यवसाय को शुरू करने के लिए आप  मशीन खरीद सकते हैं-

https://dir.indiamart.com/impcat/automatic-papad-making-machine.html

#4 क्या पापड़ बनाने का व्यवसाय को शुरू करने के लिए मशीन की जरूरत होती है ?

यदि आप इस बिजनेस में अभी नए-नए हैं और आपको इस बिजनेस करने का कोई अनुभव नहीं है। आप इस बिजनेस को शुरू तो करना चाहते हैं लेकिन आपके पास मशीन खरीदने तक की पूंजी नहीं है तो शुरुआती दौर में आप पापड़ बनाने का काम हांथो से भी शुरू कर सकते हैं। 

इसके लिए आप कुछ महिलाओ को पापड़ बनाने के काम पर रख सकते हैं क्योकि पुरुषों की तुलना में महिलाएं ऐसे कामो में ज्यादा तेज होती हैं। इससे महिलाओ को भी रोजगार मिल जाएगा और वैसे भी मशीन से बनी हुई पापड़ की तुलना में  लोगों को हांथो से बनाई हुई पापड़ में ज्यादा स्वाद मिलता है।

 फिर जैसे-जैसे आपका बिजनेस आगे बढ़ता जाय और आपके बनाए पापड़ की मांग बढ़ने लग जाय तो जल्दी और ज्यादा मात्रा में पापड़ की सप्लाइ करने के लिए 

इस बिजनेस में कमाए मुनाफे से आप मशीन खरीद सकते हैं तब तक में आपके पास मशीन खरीदने के लिए पैसे भी हो जायेगें  

लेकिन यदि आपके पास पहले से पर्याप्त पूंजी है तो आप पापड़ बनाने का व्यवसाय शुरू करने के लिए मशीन खरीद सकते हैं।  पापड़ बनाने का व्यवसाय शुरू करने के लिए आपको निम्न मशीन खरीदना होगा- 

  • पल्ब लाइजर 
  • ग्राइन्डर मशीन 
  • पापड़ प्रेसिंग मशीन 
  • फ्लोर नीडिंग मशीन 
  • ऑटोमैटिक मशीन 
  • पापड़ शीटर 
  • कटर मशीन 
  • ड्रायिंग मशीन 
  • सीलिंग मशीन 
  • इलेक्ट्रिक ड्रायर 
  • फ्लॅट शीट मेकिंग मशीन 

#5 पापड़ बनाने का व्यापार शुरू करने के लिए कुल लागत 

वैसे तो पापड़ बनाने के व्यवसाय को लघु उद्योग की श्रेणी मे रखा जाता है लेकिन इसे छोटे और बड़े पैमाने दोनों मे से किसी भी स्तर पर शुरुआत किया जा सकता है। 

यदि आप इस व्यवसाय को बड़े स्तर पर शुरू करते हैं तो आपको इसमे बड़ी पूंजी लग सकती है जिसमे आपको अलग से पापड़ मैनुफेक्चुरिंग कंपनी खोलना होगा और इसके लिए आपको एक बड़े क्षेत्र की जरूरत होगी। 

यदि आपके पास पहले से ही कोई ऐसी खाली बिल्डिंग या कोई मकान है तो आप उसे पापड़ उद्योग के रूप मे अपनी कंपनी का शक्ल दे सकते। 

पापड़ बनाने का व्यापार शुरू करने के लिए लगने वाला कुल लागत लागत इस बात पर भी निर्भर करता है कि आप इस बिजनेस को करने के लिए मशीन का इस्तेमाल करना चाहते हैं या फिर मैन पावर का इस्तेमाल करना चाहते हैं।  

जहां तक मशीन की बात है तो यह अलग-अलग कार्य क्षमता के अनुसार  10,000 रूपये से लेकर 1,00,000 रूपये तक भी आती है। और पापड़ बनाने का व्यापार शुरू करने के लिए बड़ी मात्रा मे कच्चा माल की जरूरत होगी जो कि लगभग  5,000 रूपये से लेकर 7,000 रूपये तक की कुल लागत मिल जाएगी। 

यह एक मोटा हिसाब है।  हो सकता है कि थोक रेट मे सामान लेने पर आपको इससे कम लागत मे सभी कच्चा माल मिल जाए। 

छोटे स्तर पर शुरुआती दौर मे मैनुयली हांथ से पापड़ बनाने का व्यापार शुरू करने पर ,कच्चा माल और महिलाओ के परिश्रमिक देने के खर्चे को जोड़कर 15,000 से 20000 रूपये की लागत मे आप इसे शुरू कर सकते हैं।

यदि आप बड़े स्तर पर पापड़ का उत्पादन करना चाहते है तो स्वाभाविक है कि उसमे ज्यादा कच्चा माल की जरूरत पड़ेगी और इसके लिए लागत भी अधिक लगेगी।

 और साथ ही बड़े लेवल पर काम करने के लिए आपको बढ़िया मशीन की भी जरूरत होगी और मशीन को रखने के लिए बड़े जगह की जरूरत भी होगी। 

ऐसे मे कच्चा माल ,मशीन और इसके लिए काम करने वाले कुछ मजदूर तथा कंपनी खोलने के लिए आवश्यक स्थान को मिलकर 2-3 लाख रूपये की जरूरत होगी जैसे कि मैंने पहले ही कहा था कि अगर आपके पास खुद का कोई बना बनाया बिल्डिंग या कोई कंपनी खोलने लायक बढ़िया सा खाली मकान है तो आपका लगने वाला लागत कम हो सकता है। 

#6 पापड़ कैसे बनाये? (पापड़ बनाने की प्रक्रिया)

महिलाएं पापड़ बनाने मे एक्सपर्ट होती है लेकिन पापड़ बनाना कोई बड़ी बात नहीं है इसे बेहद आसानी से बनाया जा सकता है। बस इसके लिए कुछ आसान से स्टेप्स को फॉलो करना होता है। 

पापड़ को या तो मैनुयली हांथ से बनाया जा सकता है या फिर इसके लिए मशीन का इस्तेमाल भी किया जा सकता है। पापड़ का व्यवसाय करने के लिए पापड़ बनाने की प्रक्रिया इस प्रकार है –

विभिन्न किस्म के आटे/दाल  लें 

पापड़ कई तरह के होते है जैसे की उड़द का पापड़ ,मूंग का पापड़ ,चना का पापड़ ,चावल का पापड़ ,साबुदाना का पापड़ ,गेहूं का पापड़ ,ज्वार का पापड़ ,मक्का का पापड़ और आलू का पापड़ 

लेकिन इनमे से मूंग और उड़द के पापड़ को ज्यादा पसंद किया जाता है। अगर आप उड़द की दाल से पापड़ बनाना चाहते है तो इसके लिए आप इसकी दाल को रात भर पानी मे भीगा कर रखें  

विभन्न प्रकार के मासाले डालें

फिर सुबह ग्राइन्डर की मदद से पीसकर इसमे आवश्यकता अनुसार नमक ,मिर्च कास्टिक सोडा और विभिन्न प्रकार के मसाले डालें और अच्छा से मिक्स करने के बाद इसे 30 मिनट तक रहने दें। 

छोटी-छोटी गोलियां बनाए 

30 मिनट के बाद इससे 10-10 ग्राम की छोटी-छोटी गोली बना लें 

गोलियों को पापड़ प्रेसिंग मशीन मे रखें 

गोलियां बनाने का काम पूरा होने के बाद इन गोलियों को पापड़ प्रेसिंग मशीन में रखें मोल्ड के आकार के अनुसार पापड़ बनकर तैयार हो जाएगा।   

पापड़ को सूखाएं 

बने हुए पापड़ को अब सुखाने की बारी आती है इसके लिए आप ड्रायिंग मशीन का इस्तेमाल कर सकते है या फिर आप खुली धूप मे भी सूखा सकते है लेकिन ऐसा करने से पापड़ की क्वालिटी और उसका स्वाद कम हो जाता है इसलिए पापड़ को ड्रायिंग मशीन मे ही सुखाने की कोशिश करे। 

#7 पापड़ बनाने का व्यापार शुरू करने हेतु लाइसेन्स(रजिस्ट्रेशन)

इस व्यापार को शुरू करने के लिए आपको अपने व्यापार का रजिस्ट्रेशन करना होगा ताकि आपके व्यापार के बारे मे सरकार के पास हिसाब-किताब माजूद रहें। कुछ प्रमुख रजिस्ट्रेशन इस प्रकार हैं-

BIS रजिस्ट्रेशन 

जब कोई व्यवसायी खाने-पीने चीजों का व्यवसाय करना चाहता है तो इसके उस व्यवसायी को BIS रजिस्ट्रेशन कराना पड़ता है और पापड़ भी एक खाने वाली चीज है इसलिए पापड़ बनाने का व्यापार शुरू करने के लिए आपको BIS रजिस्ट्रेशन कराना होगा।  

FSSAI रजिस्ट्रेशन 

इसका रजिस्ट्रेशन भी  खाद्य पदार्थों के व्यापार वाली चीजों के अंतर्गत आता है। यदि आप अपने इस व्यापार मे बिना किसी बाधा के निरंतर तरक्की करते रहना चाहते हैं तो फिर आपको FSSAI रजिस्ट्रेशन जरूर करा लेना चाहिए।

 ताकि बिजनेस के बीच मे किसी तरह की दिक्कत न आए कि और आपके तरक्की से जलकर कोई यह शिकायत न कर सके कि आपके पास खाद्य पदार्थों का व्यापार करने के लिए किसी तरह का रजिस्ट्रेशन वगैरा नहीं है ऐसे मे लोग कह सकते है कि आप कुछ अवैध काम कर रहे हैं। 

GST रजिस्ट्रेशन 

चाहे कोई व्यवसाय कितना ही बड़ा अथवा छोटा क्यों न हो,सभी के के लिए GST रजिस्ट्रेशन को अनिवार्य कर दिया गया है इसलिए बिना किसी कानूनी अड़चन के पापड़ का व्यवसाय करने के लिए आपको चाहिए कि आप अपने बिजनेस का GST रजिस्ट्रेशन कराएं।  

MSME/SSI रजिस्ट्रेशन 

पापड़ उद्योग एक तरह का लघु उद्योग है इस उद्योग का  महिला सशक्तिकरण मे अहम योगदान है इसलिए सरकार इस तरह के उद्योग को प्रोत्साहित करने के लिए सरकारी सब्सिडी मुहैया करती है। यदि आप सरकार के ऐसे कार्यक्रमों का लाभ उठाना चाहते हैं तो फिर आपको MSME/SSI रजिस्ट्रेशन जरूर करना चाहिए। 

ESI रजिस्ट्रेशन 

यह एक प्रकार का श्रमिक बीमा रजिस्ट्रेशन  होता है एक बड़े स्तर पर पापड़ का व्यवसाय को शुरू कराना चाहते है तब आपको ESI रजिस्ट्रेशन कराना जरूरी होता है 

EPF रजिस्ट्रेशन 

अगर आपके पापड़ बानने के व्यवसाय मे 20 या फिर इससे अधिक कर्मचारी हैं तो आपको यह रजिस्ट्रेशन जरूर कराना चाहिए यह रजिस्ट्रेशन आवश्यक होता है। 

Treadmark 

यदि आप चाहते है कि आपके कंपनी को भविष्य मे कोई अपना कहने का दावा न कर पाये तो इसके लिए आपको ट्रेंडमार्क के रूप मे अपनी कंपनी का रजिस्ट्रेशन

करा सकते हैं। 

PFA रजिस्ट्रेशन 

शुरुआती दौर मे जब आपका व्यवसाय छोटे स्तर पर हो तो आपको इस रजिस्ट्रेशन को करने की उतनी जरूरत नहीं है आप करा भी सकते हैं और नहीं भी। 

लेकिन जब आपका व्यापार बढ्ने लगे तो आपको इसका रजिस्ट्रेशन अपने पापड़ उत्पाद की गुणवत्ता के लिए कराना चाहिए। भारतीय मानक द्वारा निर्धारित गुणवत्ता मानको का आपको पालन कराना होगा। 

IEC रजिस्ट्रेशन 

यह रजिस्ट्रेशन उन व्यापारियों के लिए जरूरी होता है जो अपने उत्पाद को दूसरे देश मे निर्यात करते है। जब आपका व्यापार बड़ा हो जाये और इसको और फैलाना चाहे तो  अपने पापड़ को दूसरे देश मे निर्यात करने के लिए आपको यह रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ेगा। 

#8 पापड़ बनाने का व्यापार शुरू करने के लिए मार्केटिंग करें

अपने पापड़ का व्यापार को बढ़ाने के लिए आपको अपने बिजनेस के बारे मे थोड़ी मार्केटिंग मे भी मेहनत करनी पड़ेगी क्योकि कहते हैं न कि जो दिखता है ,वही बिकता है। 

अपने पापड़ के बारे मे मार्केटिंग करने के लिए आपके पास कई सारे विकल्प है आप चाहें तो सोशल मीडिया मार्केटिंग कर सकते है या फिर आप पम्प लेट लगाकर भी लोगों को अपने व्यवसाय के बारें मे बता सकते हैं। 

इसके अलावा आप समाचार पत्रों मे भी अपने पापड़ बिजनेस के बारें मे विज्ञापन दें सकते हैं। 

पापड़ व्यवसाय को सफल बनाने के लिए आप शुरू मे लोगो को आकर्षित करने के लिए कुछ ऑफर देने का आइडिया भी बेहतरीन रहेगा अपने बिजनेस के शुरुआती दौर मे अपने उत्पाद की कीमत को कम रखने की कोशिश करें जिससे ज्यादा से ज्यादा ग्राहक खुद-ब-खुद खरीदने के लिए आयें।  

#9 पापड़ बनाने के व्यापार मे पापड़ की पैकिंग 

पापड़ की पैकिंग आपको सोच-समझ कर करना हैं । पैकिंग मे आपको ये ध्यान रखना है कि कि दूसरे लोग एक पैकेट मे कितने पापड़ दे रहें हैं। 

शुरुआत मे आप उनसे एक दो अधिक पापड़ दें जिससे ग्राहक आपका पापड़ खरीदना पसंद करेगे। 

जब मार्केट मे आपके बनाए पापड़ की मांग होने लगे और आपका बिजनेस चलने लगे तो आप पैकेट मे पापड़ों की संख्या अपने इच्छा अनुसार कम या ज्यादा कर सकते हैं। 

#10 पापड़ बनाने का व्यापार शुरू करने मे मुनाफा 

आय दिन पापड़ की खपत होती रहती है यानि की इसकी जरूरत भी हमेशा के लिए बनी रहेगी जिससे स्पष्ट है कि पापड़ बानने के व्यापार मे मुनाफे की कमी नहीं है।  

यदि आप 2 ग्राम पापड़ को 1 रूपये मे बेचते है और एक पैकेट मे 100 ग्राम पापड़ रखें तो इस हिसाब से किसी थोक ग्राहक से आपको हर एक पैकेट मे 50 रूपये। 

और यह विक्रेता 100 ग्राम पापड़ के पैकेट को 70 रूपये मे बेचे तो हर पैकेट से उसे 20 रूपये का फायदा मिलेगा। जब बाजार मे एक बार आपका ब्रांड बन जाएगा तो फिर आपका बिक्री कई गुना बढ़ जाएगा। 

फिर आपका मुनाफा ही मुनाफा है। क्योकि अब लोगो को आपके बनाए पापड़ की जरूरत होगी। 

पापड़ बनाने का व्यापार शुरू करने मे चुनौतियां

हर बिजनेस मे थोड़ी बहुत कुछ न कुछ चुनौतियाँ तो होती ही है इसी तरह पापड़ बनाने के व्यापार मे भी कुछ चुनौतियाँ हैं।

पापड़ बनाने के व्यापार मे पहले से ही कई नामी ब्रांड मौजूद और उन्हे टक्कर देने के लिए आपको काफी तैयारी करनी पड़ेगी और इसमे समय भी लग सकता है।  

हो सकता कि आपके इलाके मे इस बिजनेस को लेकर अभी उतना कंपटीशन न हों। इसके अतिरिक्त आपको इस बिजनेस मे सफल होने के लिए काफी धैर्य रखना पड़ सकता है।

यदि आप पहले ही दिन से फायदा कमाने की सोच रहें है तो फिर यह बिजनेस आपके लिए नहीं हैं लेकिन अगर आप एक उद्यमी,परिश्रमी और धैर्यवान व्यक्ति है तो यह बिजनेस आपके लिए है और आपका पापड़ बनाने के व्यापार मे आपका स्वागत है।   

पापड़ बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें? निष्कर्ष 

मुझे लगता है कि अब आपके पास पापड़ बनाने का व्यवसाय शुरू करने के लिए पूरी जानकारी है। बस आपको एक्शन बस लेना है। मेहनत और समझदारी से काम करते हुये आप एक दिन पापड़ बनाने के बिजनेस मे जरूर सफल हो जाएगे।  

किसी भी काम शुरू करना आसान है लेकिन उसे लगातार करते रहना थोड़ा मुश्किल हैं।” 

मुझे कॉमेंट करके बताएं कि आपको पापड़ बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें? की जानकारी कैसी लगी?अच्छी लगी या बहुत अच्छी लगी ?  

comment here and bye animation
Rate this post

3 thoughts on “Papad banane ka business kaise kare? [2022]: इन 10 स्टेप मे शुरू करें यह बिज़नस”

Leave a Comment

x