SBI Arogya Plus Policy In Hindi- 2022

Free Join Our Telegram

हाय फ्रैंड्स Earningmitra में आपका बहुत बहुत स्वागत है। 

आज हम एसबीआई के आरोग्य प्लस मेडिक्लेम पॉलिसी की चर्चा करने वाले हैं जो कि न सिर्फ सस्ती है बल्कि अच्छी भी है।

दोस्तों यह पॉलिसी मार्केट में उपलब्ध  दूसरे मेडिक्लेम पॉलिसी से थोड़ी अलग है और इसे काफी सिम्पल रखने की कोशिश की गई है। 

SBI Arogya Policy की खास बातें

इस पॉलिसी के बारे में इतना कह सकता हूं कि यह एक बहुत ही जबरदस्त पॉलिसी है। इस पॉलिसी के अंतर्गत बहुत से खास बात है. 

1. प्रीमियम फॉर लाइफ

इस पॉलिसी के अंतर्गत आप जो प्रीमियम पॉलिसी लेते समय भुगतान करते हैं, वही प्रीमियम आपको पूरे लाइफ भरना है।  

आमतौर पर मेडिक्लेम इन्श्योरेंस की पॉलिसी में उम्र बढ़ने के साथ साथ प्रीमियम बढ़ता जाता है, लेकिन इस पॉलिसी का प्रीमियम फिक्सड है। 

आप प्रीमियम पॉलिसी लेते समय जो  भुगतान करेंगे वही प्रीमियम आपको पूरे लाइफ भरना है. 

2. नो कैपिंग

इस पॉलिसी के अंतर्गत रूम रेंट या किसी एलिमेंट पर कोई कैपिंग नहीं है। 

आमतौर पर हेल्थ इंश्योरेंस की पॉलिसी में रूम रेंट के लिए सम एश्योर्ड का 1% और ICU के लिए सम एश्योर्ड का 2% की कैपिंग होती है और साथ ही साथ बहुत सारे ट्रीटमेंट के लिए भी अलग-अलग कैपिंग होती है। 

लेकिन इस पॉलिसी में ऐसी कोई कैपिंग नहीं है जो कि बहुत ही अच्छी बात है 

3. 55 साल तक मेडिकल की जरूरत नहीं 

इस पॉलिसी के अंतर्गत 55 साल तक कोई मेडिकल टेस्ट नहीं है। अतः 55 वर्ष की उम्र तक के व्यक्ति इसे बिना किसी मेडिकल टेस्ट के ले सकते है।

4. ओपीडी कवर 

इस पॉलिसी के अंतर्गत आपको ओपीडी की कवरेज मिलता है। 

5.डे केयर कवरेज ऑफ 142 एलिमेंट्स 

पहले यह समझ लीजिए कि डे केयर कवरेज का मतलब क्या है?  

आमतौर पर सभी मेडिक्लेम की पॉलिसी में 24 घंटे हॉस्पिटलाइजेशन की कंडीशन होती है। 

अर्थात बीमाधारक को इंश्योरेंस कंपनी इलाज में हुए खर्च के पैसे तभी देती है जब वह इसके लिए कम से कम 24 घंटे के लिए हॉस्पिटलाइज हुआ हो। 

24 घंटे से कम समय के इलाज के लिए दाखिल होने पर कुछ नहीं मिलता, 

लेकिन आज की डेट में मेडिकल एडवांसमेंट के कारण काफी सारी बीमारियों का इलाज दिन भर में करके हॉस्पिटल वाले मरीज को घर भेज देते हैं। 

जैसे-  आई सर्जरी, हाइड्रोसील, पाइल्स, रेडियोथेरेपी, डायलिसिस, कीमोथेरेपी इत्यादि।

ऐसी बीमारियों की कवरेज डेकेयर के अंतर्गत होती है। 

डेकेयर ट्रीटमेंट लेने के पहले आपको अपनी पॉलिसी में यह जरूर देख लेना चाहिए कि वह आपकी पॉलिसी में कवर है या नहीं। 

इसलिए आप जो मेडिक्लेम की पॉलिसी लेते हैं, उसमें डे केयर की लिस्ट जितनी लंबी होगी उतना अच्छा है। 

इस पॉलिसी के अंतर्गत 142 डे केअर ट्रीटमेंट कवर है। मतलब आज के डेट में उपलब्ध लगभग सारे डे केयर कवरेज इसमें है 

6. कवरेज ऑफ डिपेंडेंट चिल्ड्रेन Upto एज ऑफ ट्वंटी फाइव ईयर

अगर आप इस पॉलिसी में अपने बच्चों को कवर करते हैं तो उनकी कवरेज , आपके बच्चे की उम्र 25 वर्ष होने तक इसमें बनी रहती है। 

आमतौर पर मेडिक्लेम पॉलिसी में बच्चों की कवरेज 21 वर्ष तक होती है, लेकिन इस पॉलिसी में 25 वर्ष की है। 

ये भी पढ़े:- Marine Insurance Policy In Hindi 2022

आइए अब अगले पॉइंट के बारे में बात करते हैं – 

इस पॉलिसी को कौन-कौन से लोग ले सकते हैं और इसके अन्य फीचर्स क्या हैं? 

  • इस पॉलिसी को आप अपने लिए या अपने परिवार के लिए ले सकते हैं। मतलब यह पॉलिसी इंडीविजुअल फैमिली और फैमिली फ्लोटर के रूप में उपलब्ध है। 
  • फ्लोटर पॉलिसी के अंतर्गत आप खुद को अपने जीवन साथी को और अपने दो बच्चों को कवर कर सकते हैं। 
  • आप अपने पैरेंट को इस पॉलिसी के अंतर्गत कवर तो कर सकते हैं, लेकिन उनके लिए इंडिविजुअल सम एश्योर्ड लेना होगा।
  • फैमिली फ्लोटर के अंदर उन्हें कवर नहीं कर सकते।
  • आयु सीमा- इस पॉलिसी के अंतर्गत इन्सुरेंस कराने के लिए कम से कम आयु सीमा 3 मंथ और ज्यादा से ज्यादा आयु सीमा 65 साल का है।
  • सम एश्योर्ड- इस पॉलिसी के अंतर्गत 1 लाख , 2 लाख और 3 लाख का सम एश्योर्ड उपलब्ध है.  इनमे से किसी एक का चुनाव आप कर सकते हैं। 
  •  प्रीमियम- इस पॉलिसी के अंतर्गत 8,900+ GST , 13,350+GST, और 17,800+GST के तीन प्रीमियम है। इन तीनों प्रीमियम में सिर्फ एक अंतर है। वह है ओपीडी के कवरेज अमाउंट का इसकी चर्चा विस्तार से आगे प्रीमियम टेबल के साथ करूंगा। 

ये भी पढ़े:- SBI Accidental Insurance Policy 1000 Rs In Hindi

आप अपनी जरूरत के हिसाब से पॉलिसी को लें

हॉस्पिटलाइजेशन 

यदि आप हॉस्पिटलाइजेशन को ध्यान में रखकर ये पॉलिसी ले रहे हैं तो आप 8,900+GST वाला प्रीमियम की पॉलिसी लें, जिसमें आपको टोटल ₹10,502 के प्रीमियम का भुगतान करना होगा। 

ओपीडी कवरेज

यदि आपकी प्राथमिकता ओपीडी की कवरेज है तो आप अन्य 2 ऑप्शन का चुनाव अपनी जरूरत के हिसाब से कर सकते हैं।   

आमतौर पर ओपीडी की कवरेज की जरूरत ज्यादा उम्र के लोगों को होती है। 

इस पॉलिसी के अंतर्गत ओपीडी की कवरेज ₹500 से लेकर ₹10,000 तक की है। 

ओपीडी का अमाउंट आपकी एज ,आपकी पॉलिसी में किसने  लोग कवर हैं और प्रीमियम पर निर्भर करेगा।

अल्टरनेटिव पिग्मेंट कवरेज

इस पॉलिसी में अल्टरनेटिव पिग्मेंट की भी कवरेज है। इसके तहत आयुर्वेदिक होम्योपैथी और यूनानी चिकित्सा का कवर है। 

लेकिन एक बात का ध्यान रखें यह तभी कवर हैं जब यह ट्रीटमेंट आप सरकारी हॉस्पिटल में या सरकार द्वारा रजिस्टर्ड हॉस्पिटल में लेते हैं। 

अल्टरनेटिव ट्रीटमेंट के लिए यह कंडीशन जो भी मेडिक्लेम की पॉलिसी अल्टरनेटिव ट्रीटमेंट को कवर करती है, सभी में रहती है।

प्री हॉस्पिटलाइजेशन और पोस्ट हॉस्पिटलाइजेशन कवरेज

इस पॉलिसी के अंतर्गत प्री हॉस्पिटलाइजेशन और पोस्ट हॉस्पिटलाइजेशन के भी कवरेज है। 

प्री हॉस्पिटलाइजेशन 60 दिनों का है और पोस्ट हॉस्पिटलाइजेशन की कवरेज 90 दिनों की है। 

यहां पर आप जान लें- हॉस्पिटलाइज होने के पहले इलाज पर हुए खर्च को प्री हॉस्पिटलाइजेशन के अंतर्गत कवर करते हैं और डिस्चार्ज होने के बाद इलाज के जो खर्च होते हैं उसे पोस्ट हॉस्पिटलाइजेशन एक्सपेंसेज कहते हैं तो पोस्ट हॉस्पिटलाइजेशन एक्सपेंसेस 90 दिनों का है। 

अर्थात डिस्चार्ज होने के बाद 90 दिनों तक जो इलाज के खर्च होंगे वो इसमें कवर रहते हैं। 

  • इस पॉलिसी के अंतर्गत एम्बुलेंस की कॉस्ट ₹1,500 तक कवर है। इस पॉलिसी के अंतर्गत प्रीमियम में लोडिंग भी है। 
  • यदि पॉलिसी लेने वाले को सिगरेट पीने की शराब का सेवन करने की या तंबाकू का सेवन करने की आदत है तो ऐसी हर आदत के लिए पॉलिसी में 5% की लोडिंग है। मतलब हर आदत के लिए 5% एक्सट्रा प्रीमियम भुगतान करना होगा। 

मैटरनिटी कवरेज- 

इस पॉलिसी के अंतर्गत मैटरनिटी की कवरेज नहीं है, लेकिन आपके ओपीडी की जो लिमिट होगी उतने अमाउंट तक का क्लेम आप इस पॉलिसी के अंतर्गत कर सकते हैं। 

आइए इस पॉलिसी के स्ट्रक्चर को इसके टेबल से समझते हैं। 

ये भी पढ़े:- ग्राम संतोष बीमा योजना की पूरी जानकारी “उदाहरण” के साथ 2022

SBI आरोग्य पॉलिसी की जानकारी टेबल के रूप में 

टेबल 1

sbi arogya policy in hindi

यहां जो टेबल बताया है इसमें चाहे आप किसी भी ऑप्शन का चुनाव करें। आपका प्रीमियम 8,900 प्लस जीएसटी लगेगा। 

चाहे आप सम एश्योर्ड 1 लाख का लें, 2 लाख का लें या 3 लाख का या भी। 

आप पॉलिसी इंडिविजुअल के लिए लें या फैमिली फ्लोटर, सब मे यही प्रीमियम लगेगा। 

आपके सम एश्योर्ड और कितने लोग कवर हैं, उसके अनुसार ओपीडी का शुल्क डिफर करेगा। 

यहां एक बात का ध्यान दें। यदि आप दो प्लस टू का फैमिली फ्लोटर पॉलिसी ले रहे हैं अर्थात आप खुद को अपने जीवन साथी को और अपने दो बच्चों को कवर कर रहे हैं तो 3 लाख का सम एश्योर्ड ही लें, 2 लाख तक बिल्कुल न लें

क्योंकि दोनों का प्रीमियम भी सेम है , ओपीडी के कवरेज का मान भी सेम है और बाकी सारे कवरेज भी सेम में। 

इसी प्रकार आप यहां पर 13 हज़ार 350 प्लस जीएसटी वाला टेबल देख सकते हैं। 

 टेबल 2  

sbi arogya policy in hindi 1

यह टेबल भी बिल्कुल पहले वाली टेबल की तरह है। इसमें चाहे आप किसी भी ऑप्शन का चुनाव करें। आपका प्रीमियम 13 हज़ार 350 प्लस जीएसटी लगेगा। 

दोनों में सिर्फ ओपीडी अमाउंट के कवरेज का अंतर है। 

यहां भी ध्यान दें कि टू प्लस टू के लिए प्रीमियम तो जीएसटी के साथ ₹5,200 बढ़ रहा है, लेकिन ओपीडी की कवरेज सिर्फ ₹500 बढ़ रही है तो आप इस ऑप्शन में बिल्कुल न जाएं। 

इसी प्रकार आप यहां पर 17,800 प्लस जीएसटी वाला टेबल देख सकते हैं। 

 टेबल 3  

sbi arogya policy in hindi 2

यह टेबल भी बिलकुल पहले दो टेबल की तरह दिख रहा है तो आप  देख सकते हैं कि यहां पर ओपीडी के अमाउंट की कवरेज बढ़ गई है और प्रीमियम भी। 

अब बात करते हैं। इस पॉलिसी के वेटिंग पीरियड के बारे में। 

वेटिंग पीरियड 

 इस पॉलिसी में सारे वेटिंग पीरियड नॉर्मल हैं। फ्री एग्जिस्टिंग डिजीज के लिए वेटिंग पीरियड चार साल का है। मतलब वैसी कोई बीमारी जो पॉलिसी लेते समय पॉलिसी में कवर लोगों को ठीक वैसी बीमारी के इलाज पर हुए खर्च को या शून्य चार साल के बाद कवर करेगी। पॉलिसी लेने के एक महीने के अंदर इंज्यूरी के अलावा किसी अन्य कारण से हॉस्पिटलाइजेशन होती है तो वह कवर नहीं होगा। साथ में मैटरनिटी से जुड़े खर्चे पॉलिसी लेने के नौ महीने बाद ही मिलेंगे। 

अब बात करते हैं टैक्स बेनिफिट के बारे में

टैक्स बेनिफिट

इस पॉलिसी के अंतर्गत आप जो प्रीमियम पे करते हैं, वह इनकम टैक्स के सेक्शन डी के अंतर्गत Exempted  है। 

SBI Arogya plus पॉलिसी [निष्कर्ष]

तो दोस्तों, यह थी एसबीआई के आरोग्य प्लस मेडिक्लेम इंश्योरेंस पॉलिसी की जानकारी। 

अगर आपको यह जानकरी अच्छी लगी हो तो नीचे दिए गए रेटिंग सेक्शन में 5 स्टार देकर मुझे प्रोत्साहित जरूर करें। 

यदि आप हमारे टेलीग्राम चैनल से अभी तक नहीं जुड़ें हैं तो  इस आर्टिकल के सबसे ऊपर दिए गए बटन पर क्लिक करके जरूर टेलीग्राम चैनल जॉइन कर ले.  

और अंत में अपना कीमती समय निकाल कर इस आर्टिकल के साथ यहां तक बने रहने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।

5/5 - (2 votes)

Leave a Comment

x