आलू चिप्स लघु उद्योग कैसे शुरू करें 2022 में आलू चिप्स बनाने की मशीन कीमत

Free Join Our Telegram

आलू चिप्स एक ऐसी चीज जो हर एक दुकान पर लटकती हुई मिल जाती है।

इसकी वजह यह है कि मार्केट में इसकी बहुत ज्यादा डिमांड है जिससे आलू चिप्स धड़ल्ले से बिक जाते हैं।

आज लगभग सभी लोग आलू चिप्स खाना पसंद करते हैं। 

अब ये अलग बात है कि कोई ओनियन फ्लेवर में, कोई साल्ट (नमक) के फ्लेवर में तो वहीं कोई चिली, गार्लिक या बटर फ्लेवर में आलू चिप्स खाना पसंद करते है। 

लेकिन इससे तो एक बात साफ है कि चाहे किसी के पसंद का फ्लेवर कुछ भी हो, आलू चिप्स हर आयु वर्ग का व्यक्ति खाना पसंद करता है।

इसका मतलब यह है कि यह हमेशा चलने वाला बिजनेस आइडिया है।

अगर आप इस बिजनेस को करना चाहते हैं और जानना चाहते हैं कि आलू चिप्स बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें?

जानिये मोबाइल से ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए

तो इस लेख मैं आप से आलू चिप्स का बिजनेस शुरू करने के लिए सभी Important जानकारी देने वाला हूँ ताकि आपको आलू चिप्स के  बिजनेस को  शुरू करने में कोई दिक्कत न आए और आप आराम से इस Business को शुरू कर सके। 

तो चलिए फटाफट जानते है कि इस Business को शुरू करने का पूरा Process क्या है?

Contents

आलू चिप्स बनाने का लघु उद्योग कैसे शुरू करें।

आलू चिप्स का व्यवसाय शुरू करने के लिए मार्केट खोजें (Market Research)

किसी भी बिजनेस की 90% सफलता बिजनेस के लिए बनाई गयी रणनीतियों पर निर्भर करता है बाकी का 10 % काम करने पर निर्भर करता है।

इसलिए Decide करें कि चिप्स बनने के बाद आपका चिप्स कौन खरीदेगा। या आप किसे -किसे अपना चिप्स बेचेगे? 

कहीं ऐसा न हो कि चिप्स बनने के बाद ग्राहक ढूंढने में ही समय निकल जाये और चिप्स धरा का धरा रह जाए।

अतः आलू चिप्स का व्यवसाय शुरू करने के लिए मार्केट जरूर खोजे। 

मार्केट रिसर्च करते समय यह भी गौर करें कि आपके इलाके में ज़्यादातर लोग किस फ्लेवर के चिप्स खाना पसंद करते है ताकि आप उनकी पसंद के अनुसार आलू चिप्स बना सके। 

इसके साथ ही आलू चिप्स के बिजनेस में आपके तरह ही कई और बिजनेसमैन हो सकते है जो कि पहले से आपके इलाके के मार्केट में छाए हो।

इसलिए आलू चिप्स बनाने का बिजनेस शुरू करने के लिए आपको अपने प्रतियोगी के बनाए हुये चिप्स के टेस्ट को परखना होगा।

इससे आपको यह जानने मे Help मिलेगी कि आपके चिप्स का Test कैसा होना चाहिए?

आलू चिप्स का व्यवसाय शुरू करने के लिए कच्चा माल एवं इसकी कीमतें

इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपको जिन कच्चा माल की जरूरत होगी उसका विवरण इस प्रकार है-

  • साधारण अथवा मीठा आलू  (12 रूपये प्रति किलोग्राम थोक रेट )
  • खाद्य तेल (120 रु. लीटर से 140 रू. प्रति लीटर)
  • नमक (12 रूपये से 18 रूपये प्रति पैकेट)
  • मिर्च-मसाले (आवश्यकतानुसार )
  • स्वादानुसार विभिन्न फ्लेवर 

आलू चिप्स बनाने का बिजनेस शुरू करने के लिए आवश्यक मशीन  (Potato chips Manufacturing Machine )

इस बिजनेस का अधिकांश काम मशीनों के जरिये ही किया जाता है। अगर आप बड़े स्तर पर चिप्स का उत्पादन करना चाहते हैं तो फिर इस बिजनेस को शुरू करने के लिए कुछ मशीन की  जरूरत पड़ सकती है।

आलू चिप्स बनाने के बिजनेस को शुरू करने के लिए आलू चिप्स बनाने की छोटी मशीन तथा बड़ी मशीन दोनों ही तरह की मशीने आती हैं। आवश्यक मशीन का विवरण इस प्रकार है-

  • पोटैटो पीलिंग मशीन 
  • पोटैटो स्लाइसिंग मशीन 
  • फ्रायर मशीन 
  • स्पाइस कोटिंग मशीन 
  • पाउच पैकिंग मशीन 
  • एयर कम्प्रेसर मशीन 

आलू चिप्स का व्यवसाय शुरू करने के लिए कच्चा माल कहाँ से खरीदे

आलू चिप्स बनाने का बिजनेस के लिए कच्चा माल खरीदने हेतु आपके पास दो विकल्प है। 

एक तो आप अपने किसी पास के किराना दुकान से थोक रेट में कच्चा माल खरीद सकते हैं जिससे आपको कच्चा माल में कुछ डिस्काउंट भी मिल जाएगा। 

दूसरा विकल्प यह है कि आप कच्चा माल को ऑनलाइन किसी ई-कामर्स प्लेटफार्म से भी खरीद सकते हैं जैसे कि amazon ,flipkart आदि। 

आलू चिप्स बनाने की मशीन कहाँ से खरीदे

आलू चिप्स बनाने की मशीन को आप अपने किसी पहचान के स्टोर से अथवा भारत की बेस्ट साइट https://indiamart.in से खरीद सकते है यहाँ से कई लोग मशीन का लेन देन  करते हैं। 

आलू चिप्स बिजनेस शुरू करने के लिए कुल लागत (Cost)

इस बिजनेस को शुरू करने के लिए लगने वाला लागत कई चीजो पर Depend करता है।

अगर आप इस बिजनेस के अधिकांश काम को मैनुअल तरीके से करते है तो फिर आप इस बिजनेस को बेहद कम लागत मात्र 10,000 से 20,000 रूपये में शुरू कर सकते है। 

लेकिन यदि आप इस बिजनेस को एक बड़े लेवल पर करना चाहते है है तो इसके लिए आपको एक बड़े जगह की जरूरत होगी साथ ही एडवांस मशीन की भी जरूरत होग।

ऐसे में आलू चिप्स मशीन की कीमत और मशीन के लिए आवश्यक जगह को मिलाकर आपको मोटा-मोटा 4-5 लाख रूपये का लागत आ सकता है। 

अगर आपके पास पहले से ही कोई जगह है तो आपको बिल्डिंग वगैरा बनवाने का खर्चा नहीं आएगा जिससे आप कम लागत मे भी आलू चिप्स बनाने का बिजनेस को शुरू कर सकते हैं। 

अगर आपके पास न तो कोई अच्छी बिल्डिंग है और न ही उतने पैसे कि आप आलू चिप्स बनाने का बिजनेस शुरू करने के लिए कोई बिल्डिंग बनवा सके

तो इसके लिए एक जुगाड़ यह है कि आप कुछ समय के लिए कोई बिल्डिंग किराए पर भी ले सकते है।

इस तरीके को अपनाने से आपको आलू चिप्स बनाने का बिजनेस शुरू करने मे बेहद कम लागत आयेगा। 

आलू चिप्स कैसे बनाये? आलू चिप्स बनाने की प्रक्रिया (Potato chips making process)

आलू चिप्स बनाने की विधि बहुत ही आसान है इसके हर कोई बना सकता है। यहाँ आलू चिप्स बनाने की जानकारी दी जा रही है-

आलू को अच्छी तरह धोये : आलू चिप्स बनाने के लिए सबसे जरूरी है कि आप एक अच्छी क्वालिटी वाला चिप्स बनाए इसके लिए बाजार से खरीदकर लाये गए आलू को अच्छी तरह धो लें ताकि आलू के ऊपर लगी मिट्टी और धूल की परत हट जाए। 

पोटैटो पीलिंग मशीन में आलू को डालें: आलू को अच्छी तरह साफ कर लेने के बाद आपको साफ किए गए आलू को छिलका निकालने के लिए पोटैटो पीलिंग मशीन में डालना होता है।जिससे आलू का छिलका निकल जाता है और आलू बिल्कुल साफ हो जाता है।  

पोटैटो स्लाइसिंग मशीन से आलू काटें: आलू को चिप्स बनाने के लिए अच्छी तरह से छिल लेनें और साफ कर लेने के बाद आलू को पोटैटो स्लाइसिंग मशीन में डालें जिससे आलू को चिप्स के आकार का काटा जा सके। 

ड्रायर मशीन में आलू के स्लाइस को रखें: आलू को चिप्स के आकार में काट लें के बाद आप इसे सूखने के लिए ड्रायर मशीन में रख सकते है या फिर आप इसे धूप में भी रख सकते है। 

फ्रायर मशीन में आलू स्लाइस को फ्राई करें: आलू स्लाइस सूख जाने के बाद इसे फ्रायर मशीन की सहायता से स्लाइस को तब तक फ्राई करें जब तक कि यह सुनहरे लाल रंग का न दिखने लग जाए।  

स्पाइस कोटिंग मशीन: आलू स्लाइस को अच्छी तरह से फ्राई करने के बाद इसे स्वादिष्ट बनाने के लिए इसमें स्पाइस कोटिंग मशीन की मदद से आलू के चिप्स में स्वादानुसार नमक,विभिन्न मसाले और फ्लेवर मिलाए।  

पाउच पैकिंग मशीन: आलू चिप्स तैयार हो जाने के बाद पाउच पैकिंग मशीन की मदद से चिप्स को पैक कर दें। पैक करते समय एयर कम्प्रेसर मशीन की मदद से पैकेट में नाइट्रोजन गैस भी भरे ताकि आपके बनाए हुये आलू के चिप्स लंबे समय तक टिके और उनका स्वाद बरकरार रहे। 

आलू चिप्स  का उद्योग शुरू करने हेतु लाइसेन्स एवं रजिस्ट्रेशन(License and Registration)

चूंकि आलू चिप्स बनाने का बिजनेस खाद्य पदार्थ से जुड़ा हुआ बिजनेस है। इसलिए इस बिजनेस के सफलतापूर्वक संचालन के लिए आपको कुछ लाइसेन्स(रजिस्ट्रेशन) की जरूरत पड़ेगी ताकि कभी बिजनेस की तरक्की में कोई बाधा न आए।

 आलू चिप्स का बिजनेस शुरू करने के लिए कुछ सामान्य लाइसेन्स(रजिस्ट्रेशन) का विवरण इस प्रकार है-

व्यवसाय लाइसेन्स : आपके पास अपने व्यवसाय रो रजिस्ट्रेशन कराना होगा जिसके बाद आपको व्यवसाय लाइसेन्स मिल जाएगा 

जीएसटी नंबर : आपके पास अपने बिजनेस के नाम से अलग से एक बैंक अकाउंट तथा बिजनेस का जीएसटी नंबर होना चाहिए। 

ट्रेड लाइसेन्स : आपको अपने बिजनेस का ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन कराना चाहिए क्योकि जब एक बार आपका बिजनेस कामयाब हो जाये हो कोई और आपके प्रॉडक्ट के नाम से नकली आलू चिप्स न बेच पाये। 

इसके अतिरिक्त आपके पास निम्न लाइसेन्स भी अनिवार्य रूप से होना चाहिए-

  • MSME लाइसेन्स 
  • FSSAI लाइसेन्स  

आलू चिप्स बनाने का फैक्ट्री शुरू करने के लिए मार्केटिंग करें (Marketing)

आपके आलू चिप्स बिजनेस तब तक सफल नहीं हो सकता जब तक कि लोगों को इसके बारे में जानकारी न हो हो जितने ज्यादा लोग आपसे जुड़े उतना ही अधिक आपके  माल की बिक्री होगी 

इसके लिए जरूरी है कि आप अपने आलू चिप्स बिजनेस की मार्केटिंग करें। अपने आस-पास के इलाके में आप बैनर या पम्पलेट लगवा सकते हैं।

 इसके अलावा आप facebook,whatsapp जैसे प्लेटफार्म पर आप अपने बिजनेस का प्रचार कर सकते हैं। साथ ही आप अपनी वेबसाइट भी बनवा सकते हैं। 

जहां से लोग आपके वेबसाइट के जरिये लोगो को अपना माल ऑनलाइन भी बेच सकेगे। अधिक ग्राहको को अपने से जोड़ने के लिए आप उन्हे इनाम के रूप में कुछ दे सकते है जिससे वे खुद-ब खुद आपके बनाए चिप्स खरीदने के लिए आएगे।                                                                                                                       

आलू चिप्स बनाने के व्यापार में आलू चिप्स की पैकेजिंग (Packaging)

आलू चिप्स के पैकिंग में आपको विशेष गौर करना होगा। आपको अपने आलू चिप्स के पैकेट के लिए एक बढ़िया और आकर्षक पाउच प्रिंट कराना होगा और उस पाउच में आपके ब्रांड का नाम भी बढ़िया होना चाहिए इसका भी ध्यान रखना होगा। 

Also Read : किसी भी कंपनी की एजेंसी कैसे लें?

आलू चिप्स बनाने का व्यापार शुरू करने में मुनाफा (Profit)

किसी भी प्रॉडक्ट या सेवा को इसलिए बेचा जाता है कि इससे फायदा कमाया जा सके । आलू चिप्स बेचने के बिजनेस में फायदे की बात करें तो इसमें फायदा ही फायदा ही फायदा है। 

बाजार में आलू चिप्स का छोटा पैकेट 5 रूपये में मिलता है। इस हिसाब से आप एक पैकेट को ज्यादा से ज्यादा 3 से 3.50 रूपये में बेचते हैं तो आपको हर पैकेट से 3 से 3.50 रूपये का मुनाफा होगा और इससे दुकानदार को हर पैकेट में 2 से 2.50 रूपये का फायदा मिलेगा। 

यदि आप 80,000 हजार से 2 लाख रूपये के लागत में अपना बिजनेस करते हैं तो आपको इससे महीने का 30,000 से 40,000 रूपये की कमाई हो सकती है। 

अगर आपके चिप्स का टेस्ट और मार्केटिंग का तरीका दमदार रहा तो कमाई का आकड़ा इससे भी ज्यादा हो सकता है। अगर आपके पास ज्यादा पूंजी नहीं है और आप इसे छोटे स्तर पर शुरू करते हैं तो आप आराम से महीने का  40,000 से 50,000 हजार रूपये का मुनाफा कमा सकते हैं।  

अगर आप दुकानदार को अपना ग्राहक न बनाकर आम जनता को अपना ग्राहक बनाते है तो हर पैकेट को आप 5 रूपये में बेचकर और कई गुना ज्यादा फायदा कमा सकते हैं। लेकिन इसके लिए आपको अलग से दुकान खोलना पड़ेगा और एक दुकान से पूरा माल बेच पाना मुश्किल काम है।

Also Read : कुरकुरे का बिजनेस कैसे शुरू करें ?

आलू चिप्स बनाने का व्यापार शुरू करने में चुनौतियां (Risk)

हर बिजनेस में कुछ न कुछ चुनौतियाँ होती हैं । इसी प्रकार जब आप आलू चिप्स बनाने का बिजनेस शुरू करेंगे तो आपको भी शुरू-शुरू में कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा। 

हो सकता है कि आपको मार्केट में आपको कंपटीशन की चुनौती का सामना करना पड़े क्योकि आलू चिप्स के मांग को देखते हुए आपके ही तरह हर कोई इस बिजनेस में अपना हाथ आजमाना चाहता है। 

ऐसे में हो सकता है कि शुरू-शुरू में आपका माल कम बिके लेकिन आपको उदास नहीं होना है बल्कि इसके लिए आपको अपना और ज़ोर लगाना है जिससे आप इस चुनौती को पार कर जाये।

Also Read : पापड़ बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करें ? 

आलू चिप्स बिजनेस पर कुछ सामान्य प्रश्न

Q1. एक किलो आलू में कितनी चिप्स बनती है?

Ans : सामान्यतः एक किलो आलू से 250 ग्राम चिप्स बनती है। 

Q2. एक किलो चिप्स के लिए कितने आलू चाहिए?

Ans : एक किलो चिप्स बनाने के लिए 4 किलोग्राम आलू चाहिए।

Q3. चिप्स पैकिंग मशीन की कीमत कितनी है?

Ans : चिप्स पैकिंग मशीन अलग-अलग कीमत में मिलती है। अधिक क्षमता वाले मशीन की कीमत भी अधिक होती है। 

Q4. आलू की चिप्स को खराब होने से बचाने के लिए कौन सी गैस भरेंगे?

Ans : आलू की चिप्स को खराब होने से बचाने के लिए नाइट्रोजन गैस भरा जाता है। 

आलू चिप्स बनाने का व्यापार कैसे करें? (निष्कर्ष)

आपने इस लेख में जाना कि आप आलू चिप्स का बिजनेस कैसे कर सकते हैं? आलू चिप्स का बिजनेस को सफलता पूर्वक करने के लिए आपको अपना खुद का ब्रांड होगा और इसके लिए आपको मेहनत करना होगा  

ऊपर बताई गयी जानकारी को ध्यान में रखकर आलू चिप्स बनाने का बिजनेस आसानी से  शुरू कर सकते हैं और साथ ही सही रणनीति के साथ काम करने पर जल्द ही आप इस बिजनेस में सफल हो सकते हैं। 

मुझे कॉमेंट करके बताएं कि आपको आलू चिप्स बनाने का बिजनेस कैसे करें? की जानकारी कैसी लगी?

अच्छी लगी या बहुत अच्छी लगी?

Also Read : पेपर प्लेट बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें ?

5/5 - (1 vote)

2 thoughts on “आलू चिप्स लघु उद्योग कैसे शुरू करें 2022 में आलू चिप्स बनाने की मशीन कीमत”

  1. बहुत ही बढ़िया जानकारी दी है आपने। ऐसे ही आर्टिकल लाते रहिए।

    Reply

Leave a Comment