लहंगे का बिजनेस कैसे शुरू करें? लें पूरी जानकारी (How to start Lehenga Business in Hindi?)

Free Join Our Telegram

कपड़ों के बिजनेस में लहंगे का एक अपना बहुत बड़ा कस्टमर बेस है. आए दिन मार्केट में नए-नए स्टाइल और डिज़ाइन का लहंगा फैशन में आता रहता है।

अब लड़कियां और महिलाएं, लहंगे ना सिर्फ शादी-ब्याह में, बल्कि और भी कई ओकेजन पर पहनना खूब पसंद करती है।

तभी तो मार्केट में अब हेवी से लेकर लाइट लहंगे हर रेंज में और ढ़ेरों कलर्स में मौजूद हैं। महिलाएं, नई डिजाइन के लहंगे खरीद कर अपने लुक्स के साथ खूब एक्सपेरिमेंट करती हैं।

लहंगा अब ना केवल पारंपरिक परिधान है, बल्कि इसके बदलते अंदाज़ और रंग-रूप के वजह से ये पार्टीज और इवेंट्स में जम कर पहना जाने लगा है।

आज मार्केट में लहंगे की डिमांड को देखते हुए कहा जा सकता है कि लेडीज कपड़ों का बिजनेस शुरू करना बेहद फायदेमंद बिजनेस आईडिया साबित हो सकता है।

ऐसे में अगर आप इस बिजनेस में उतरने की सोच रहे हैं तो आज के इस आर्टिकल में हम आपको “लहंगा Business को शुरू कैसे करना है” के बारे में स्टेप बाई स्टेप पूरी जानकारी देने वाले हैं।

तो चलिए शुरू करते हैं ……………… 

Contents

लहंगा का बिजनेस कैसे शुरू करें? (How To Start Lehenga Business In Hindi ?)

1. मार्केट रिसर्च (Market Research)- 

किसी भी बिजनेस को शुरू करने से पहले मार्केट रिसर्च करना एक बेहद जरूरी स्टेप होता है, लेकिन आम लोग इस बात पर खास ध्यान नहीं देते हैं।

मार्केट रिसर्च करने पर आपके सामने कई सारी चीजें निकलकर आएगी, जैसे कि- 

  • जहां आप लहंगे का बिजनेस शुरू करने जा रहे हैं, वहां कितना कम्पटीशन है? 
  • आपका कंपटीटर कौन-कौन है? 
  • उन लोगो के बिजनेस करने का क्या तरीका है?
  • लहंगा बिजनेस में आप उनसे क्या अलग कर सकते हैं, जिससे लोग आपके शॉप पर आए? आदि.  

2. अपना business plan तैयार करें (Prepare your Business Plan)

यह स्टेप भी उतना ही ज़रूरी है, जितना कि मार्केट रिसर्च करना। इस स्टेप में आप मार्केट रिसर्च से सामने आई महत्तवपूर्ण बातों का विश्लेषण करके अपने बिजनेस के लिए एक तगड़ा एक्शन प्लान बना सकते हैं। यही आपका बिजनेस प्लान साबित होगा। 

लहंगा बिजनेस के लिए आपके इस एक्शन प्लान में बिजनेस शुरू करने से लेकर इसे मार्केट में ग्रो करने तक का पूरा ब्यौरा होगा। 

जैसे कि- 

  • बिजनेस शुरू करने के लिए इन्वेस्टमेंट का बंदोबस्त कैसे होगा?
  • कितने लोग काम पर रखने होंगे?
  • बिजनेस में आने वाली चुनौतियां और उससे निपटने के उपाय, आदि। 

3. अपने बिजनेस के लिए सही लोकेशन चुने (Choose right location for your business)

मार्केट रिसर्च और बिजनेस प्लान बनाने का काम अब पूरा हो चुका है. तो अब पूरी योजना तो कार्य रूप देने की बारी है। लेकिन इससे पहले आपको एक अच्छा सा लोकेशन भी देखना होगा, जहां आपका बिजनेस बेहतर तरीके से चल सके।

लोकेशन का चुनाव आप इन पॉइंट्स को ध्यान में रखकर कर सकते हैं – 

  • शॉप लोगो के पहुंच के नजदीक होना चाहिए।
  • शॉप का लोकेशन ऐसा हो जिससे, राह चलते लोगों की नज़र पड़ सके। 
  • अगर आप कोई ऐसी जगह सोच पाएं, जहां लहंगे की डिमांड तो ज्यादा है लेकिन सप्लाई कम है, तो इस तरह का लोकेशन, आपके बिजनेस के लिए बेस्ट होगा।

जगह देख लेने के बाद, आप चाहें तो वहां खुद की शॉप बनवा सकते हैं या फिर कोई दूकान किराए पर लेकर काम चला सकते हैं। ये पूरी तरह से आपकी मर्ज़ी और आपके पास मौजूद पूंजी पर निर्भर करता है।

4. ज़रूरी दस्तावेज़ बनवाएं (Documentation)

रेडीमेड गारमेंट्स बिजनेस के अंतर्गत लहंगे का बिजनेस शुरू करने के लिए किसी खास डाक्यूमेंटेशन की जरूरत तो नहीं पड़ती है, लेकिन अगर शॉप किराए पर ले रहे हैं तो आपके पास Rent Agreement होनी चाहिए। वहीं अगर खुद की जमीन पर आपने शॉप बनवाया है, तो प्रॉपर्टी के डॉक्युमनेट्स ज़रूरी होते हैं। इसके अलावा अगर आप नीचे बताए गए डाक्यूमेंट्स भी बनवा लेंगे, तो आपके लिए ज्यादा सहूलियत रहेगी- 

  • ट्रेड लाइसेंस – लगभग सभी बिजनेस में इसकी जरूरत होती है। आप इसे अपने लोकल म्यूनिशिपल या नगरपालिका से बनवा सकते हैं। 
  • जीएसटी (GST) नंबर – जब आपके बिजनेस का सालाना टर्नओवर 20 लाख या इससे ज्यादा होने लगेगा, तब आपको इस लाइसेंस की जरूरत पड़ेगी। फिर आपको कानूनी रूप से अपना बिजनेस रजिस्टर करके रिटर्न फाइल करना होगा।  

5. कपड़ा सप्लायर ढूंढे (Search for garment supplier)

यहां तक बने रहने के बाद अब आपने अपना शॉप खोलने और जरूरी डॉक्युमेंट्स बनवाने की जानकारी ले ली है।

तो अब बारी आती है, शॉप पर माल यानि लहंगे मंगवाने की। अपने शॉप के लिए अच्छे और ट्रेंडी लहंगो का इंतजाम करने के लिए, आप व्होलसेल मार्केट में भटकते रह जाएगे लेकिन आपको कोई अच्छा-सा सप्लायर शायद नहीं मिलेगा। क्योकि आप इस बिजनेस में अभी नए-नए ही है और आपको ज्यादा जानकारी नहीं है।

इसलिए हम आपको सलाह देंगे कि अगर आप सस्ते दाम में व्होलसेल रेट पर लहंगा लेना चाहते हैं तो गुजरात के सूरत में Ajmera Fashion के यहां एक बार जरूर जाइए। देश के छोटे-बड़े व्यापारी भी यही से माल उठाते हैं। आपकी सुविधा के लिए यहां हम Ajmera Fashion का कॉन्टेक्ट डीटेल दे रहे हैं- 

Ajmera Fashion से संपर्क करने के लिए जरूरी जानकारियां

Call or Whatsapp : +919998874010 , +919726853210 

Direct on Whatsapp: https://api.whatsapp.com/send?phone=919998874010&text=Hi 

Address: Ajmera Fashion Private Limited. , D-5491, 3rd Floor, Lift No.15, Raghukul Textile Market, Ring Road, Surat, Gujarat, India – 395002

Email: ajmerafashion@gmail.com

Youtube Link – https://www.youtube.com/c/AjmeraFashionSyntheticSareeManufacturer/videos 

Website Link : https://ajmerafashion.com/ 

इन्वेस्टमेंट (Investment)

लहंगा का बिजनेस शुरू करने के लिए आपको इन चीज़ों में पैसे इन्वेस्ट करने होंगे- 

  • लहंगा बिजनेस के लिए दूकान सेटअप करना।
  • इंटीरियर डिजाइनिंग और काउंटर के लिए फर्नीचर। 
  • कर्मचारियों के वेतन (अगर कर्मचारी रखते हैं तो)।
  • लहंगा का स्टॉक खरीदने के लिए (कम से कम 25-35 हजार का इन्वेस्टमेंट)।

टोटल इन्वेस्टमेंट (Total Investment) – वैसे किसी भी बिजनेस को सक्सेसफुल बनाने के लिए इन्वेस्टमेंट की कोई तय सीमा नहीं होती, लेकिन आज के दौर में अगर आपने सही मन्यूफैक्चरर के साथ हाथ मिला लिया तो कम कैपिटल के साथ भी आप कपड़े के कारोबार में अपनी किस्मत आजमा सकते हैं। सूरत की अजमेरा फैशन उन्हीं में से एक है, जिसके बारे में हमने आपको उपर जानकारी दी है।

अगर आप शॉप किराए पर लेते हैं, तो छोटे लेवल पर लहंगा बिजनेस शुरू करने में आपको 50-70 हजार रुपए का इन्वेस्टमेंट आ सकता है।

लहंगा बिजनेस में कितना मुनाफा मिल सकता है? (Scope of Profit in Lehenga Business)

हालांकि कपड़ों के बिजनेस में 70 से 100 % तक का प्रॉफिट मिलता है। 

लेकिन शुरू-शुरू में आपको कस्टमर्स बनाने के लिए और उन्हें अपनी तरफ खींचने के लिए, दूसरों से कम कीमत में लहंगा बेचना होगा। यानी कुल मिलाकर आपका प्रॉफिट का ग्राफ धीरे-धीरे बढ़ेगा।

उदाहरण के तौर पर (For Example) – आप 1000 रुपए के लहँगे को 5% छूट पर कस्टमर को बेच सकते हैं। ऐसा करने से ग्राहक आपकी दूकान पर खींचे चले आएंगे। एक बार अगर आपने प्राइसिंग के साथ सेल का खेल समझ लिया तो ग्राहक बनाना आपके लिए काफी आसान साबित होगा। फिर जब आपका बिजनेस फलने-फूलने लगे तो आप अपना प्रॉफिट बढ़ा सकते हैं। 

मार्केटिंग करना है जरूरी (Marketing is compulsory) 

अगर आप अपने लहंगा बिजनेस को जल्दी ग्रो करना चाहते हैं और उसे उंचे मुकाम पर पहुंचाना चाहते हैं, तो आपको अपने बिजनेस की मार्केटिंग में भी थोड़े पैसे इन्वेस्ट करने होंगे। 

इसके लिए आप इन चीजों की मदद ले सकते हैं- 

  • डिजिटल मार्केटिंग
  • न्यूज़पेपर, पत्रिकाएँ
  • स्पेशल ऑफर
  • ब्रांड के साथ जुड़ना
  • कस्टमर रिलेशनशिप मैनेजमेंट

लहंगा के बिजनेस में सफल कैसे हों? (How to succeed in Lehenga Business)

अगर आप अपने लहंगा बिजनेस को सफल बनाना चाहते हैं, तो इन बातों का रखें खास ध्यान-  

ज्यादा स्टॉक न खरीदें (Don’t buy more stock)

जब तक बिजनेस का अच्छा अनुभव न हो जाए, एक साथ ज्यादा स्टॉक न खरीद। 

बेचने की कला सीखें (Learn selling skills)

अगर आपके शॉप पर कोई कस्टमर आता है तो उसे हैंडल करने की कला आपको आनी चाहिए, और आपको ये भी पता हो कि, किसी भी चीज को बेचा कैसे जाता है? अगर आपके पास ये स्किल नहीं है, तो आप किसी सेल्समैन को काम पर रख सकते हैं।

अपने फील्ड के एक्सपर्ट बने (Be the expert in your field)

ध्यान रहे आप लहंगा बेचने का बिजनेस शुरू करने जा रहे हैं, इसलिए आपको इनके बारे में हर छोटी-बड़ी जानकारी होनी चाहिए। ताकि आप कस्टमर को किसी भी लहंगे की खूबियां बता सके। जिससे कस्टमर खरीदने के लिए हाँ, कर दे.  

अन्य स्टाफ रखें (Keep another staff)- 

जब आपके शॉप पर ज्यादा कस्टमर आने लग जाएं तो आप, अधिक स्टाफ भी रख लें. क्योकि अगर आप कभी शॉपिंग करने गए होंगे तो अपने नोटिस किया होगा कि दूकान पर अपनी पसंद की चीज़ें खरीदने के लिए इंतजार करना किसी भी कस्टमर को अच्छा नहीं लगता है। 

मोलभाव कम करे (Don’t Bargain much)

अगर आप सच में एक सफल व्यवसायी बनना चाहते हैं तो आपको मोलभाव से बचना होगा।.या फिर कोशिश करें कि कम से कम मोलभाव करना पड़े, क्योंकि कस्टमर को बहस करना बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगता है। 

Extra Tips (टिप्स)

  • जो कस्टमर आपसे लहंगा खरीदने आएं, उनके साथ बढ़िया व्यवहार बनाएं ताकि वे बाद में भी आते रहे। 
  • ज्यादा लाभ कमाने के चक्कर में कभी भी किसी ग्राहक को लो क्वालिटी वाला लहंगा न बेचें। 

लहंगा बेचने के बिजनेस में जोखिम (Risk in Lehenga Business)

फायदा और नुकसान, हर बिजनेस के दो पहलू होते हैं। लहंगे के बिजनेस में भी कुछ ऐसी ही बात है, इसलिए आगे हम इस बिजनेस के जोखिम के बारे में बताने वाले हैं, ताकि आप पहले से सतर्क रहें और नुकसान से बच सकें-

धार्मिक विविधता (Cultural Diversity)

हमारे देश में अलग-अलग पंथ को मानने वाले लोग रहते हैं। ऐसे में किसी एक वर्ग की महिलाओं के लिए लहंगा का स्टॉक रख पाना मुश्किल हो जाता है। सभी के पसंद को ध्यान में रखना पड़ता है, ताकि कस्टमर उदास होकर न जाने पाएं। 

डिमांड में उतार-चढ़ाव (Fluctuation in demand)

लहंगा का बिजनेस, रेडीमेड गारमेंट्स के अंतर्गत आता है। सीजन आने पर डिमांड इतना ज्यादा बढ़ जाता है कि माल कम पड़ने लग जाता है और माल आते-आते सीजन निकल जाता है। जिसकी वजह से बिजनेस भी मंद पड़ जाता है।

सस्ता दाम (Cheap Rate) – 

जब रेडीमेड गारमेंट्स (लहंगा) नहीं बिकता तो न चाहते हुए भी इनको कम दाम में बेचन पड़ता है। ऐसे में मुनाफा नाम मात्र का ही मिल पाता है। लेकिन इन सभी उतार-चढ़ाव के बावजूद आपको निराश होने की ज़रूरत नहीं है, क्योंकि लहंगा बिकना कभी बंद नहीं होगा। 

लहंगा का बिजनेस कैसे शुरू करें [निष्कर्ष] (Conclusion)

तो दोस्तों, यह थी लहंगा बिजनेस के बारे में पूरी जानकारी। हम उम्मीद करते हैं, यह आर्टिकल आपको जरूर पसंद आया होगा और काफी कुछ जानने-समझने को भी मिला होगा।

इस पोस्ट में हमने उन सभी बातों पर गौर किया, जो आपको मालूम होनी चाहिए। 

अगर फिर भी आपके मन में कोई डाउट या कोई सवाल है, तो आप बेझिझक हमसे पूछ सकते हैं।

धन्यवाद!

5/5 - (1 vote)

Leave a Comment

x